सीएम ने दलित और गुर्जर महिला के साथ खाना, खाकर की अन्नपूर्णा रसोई योजना शुरू

मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने 5 रुपए में नाश्ता और 8 रुपए में खाना खिलाने की अन्नपूर्णा रसोई योजना की शुरूआत एक दलित और एक गुर्जर महिला के मुंह में निवाला देकर की। उन्होंने नगर निगम परिसर में मुन्नी उर्फ किरण और कैलाशी गुर्जर नामक इन दो महिलाओं के साथ अन्नपूर्णा रसोई वैन पर बाजरे की खिचड़ी, लहसुन की चटनी और बेसन गट्टे की सब्जी के साथ चाव से भरपेट भोजन भी किया। उनके साथ स्वायत्त शासन एवं शहरी विकास मंत्री श्री श्रीचंद कृपलानी, विधायक श्री अशोक परनामी, मेयर श्री अशोक लाहोटी भी मौजूद थे।

श्रीमती राजे ने इस अवसर पर कहा कि जरूरतमंद लोगों को गर्म व घर जैसा भोजन अन्नपूर्णा रसोई के माध्यम से उपलब्ध करवाया जाएगा, ताकि लोगों को पूरा पोषण मिले और वे स्वस्थ एवं ऊर्जावान रह सकें। उन्होंने कहा कि अन्नपूर्णा रसोई वैन पर खाने की गुणवत्ता एवं स्वच्छता का पूरा ध्यान रखा जाएगा तथा भोजन में वैरायटी उपलब्ध कराई जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जिन 12 शहरों को योजना के पहले चरण में शामिल किया गया है, वहां सभी निर्धारित 80 स्थानों पर आगामी 15 दिनों में भोजन मिलना शुरू हो जाएगा। आगे चलकर इस योजना को प्रदेश के अन्य शहरों में भी शुरू किया जाएगा।

श्रीमती राजे ने राजस्थान में एलईडी स्ट्रीट लाइटों के माध्यम से ऊर्जा बचत के लिए राष्ट्रीय स्तर पर प्रथम पुरस्कार प्राप्त करने के लिए स्वायत्त शासन विभाग को तथा एलईडी बल्बों का वितरण कर विद्युत संरक्षण के लिए राष्ट्रीय स्तर पर द्वितीय पुरस्कार मिलने पर ऊर्जा विभाग को बधाई दी।

शुभारम्भ समारोह में उद्योग मंत्री श्री राजपाल सिंह शेखावत, राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष श्रीमती सुमन शर्मा, संसदीय सचिव श्री कैलाश वर्मा, विधायक श्री मोहनलाल गुप्ता, श्री सुरेन्द्र पारीक, स्वायत्त शासन विभाग के प्रमुख शासन सचिव श्री मंजीत सिंह, नगर निगम जयपुर के सीईओ श्री हेमन्त गेरा सहित विभिन्न जनप्रतिनिधि, अधिकारी तथा गणमान्य नागरिक मौजूद थे।

जयपुर, 15 दिसम्बर 2016

This slideshow requires JavaScript.