कांग्रेस ने 55 साल में सिर्फ पत्थर लगाये, हम प्रदेश को विकास के ट्रेक पर लाए

आपका जिला आपकी सरकार का दूसरा दिन

मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस ने विकास के नाम पर 55 साल के शासन में सिर्फ पत्थर ही पत्थर लगाये। जमीनी स्तर पर कांग्रेस ने कोई खास काम नहीं किया, जबकि हम प्रदेश को विकास के ट्रेक पर लाए और हमने जो भी शिलान्यास किए उन कार्यों को पूरा किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने चम्बल के पानी के नाम पर भी सिर्फ पत्थर रखने का काम किया। कांग्रेस के लोगों ने तो राजनीति करने में पानी जैसे संवेदनशील मुद्दे को भी नहीं छोड़ा। लेकिन अब बरसों से प्यासे भीलवाड़ा में पानी की कोई कमी नहीं रहेगी। उन्होंने घोषणा करते हुए कहा कि अगस्त माह के अंत या सितम्बर माह की शुरुआत में हर हाल में यहां के लोगों को चम्बल का पानी पहुंचा दिया जायेगा।

श्रीमती राजे ‘आपका जिला आपकी सरकार’ कार्यक्रम के दूसरे दिन भीलवाड़ा में मेडिकल काॅलेज के भूमि पूजन सहित 17 विकास कार्यों के लोकार्पण एवं शिलान्यास कार्यक्रम में बोल रही थीं। उन्होंने कहा कि मेडिकल काॅलेज की सौगात के बाद वस्त्र नगरी भीलवाड़ा ने बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं से युक्त शहर बनने की ओर कदम बढ़ा लिये हैं।

हमने रोज 16 किमी सड़क बनाई जबकि कांग्रेस ने सिर्फ 7 किमी

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने राजस्थान में तेजी से विकास किया है। इसी का परिणाम है कि हमने ढाई साल के कार्यकाल में प्रतिदिन 16 किमी सड़क बनाई जबकि कांग्रेस ने एक दिन में मात्र 7 किमी सड़क बनाई। इसी से तुलना हो जाती है कि राजस्थान को विकास की रफ्तार में कौन तेजी से आगे ले जा रहा है।

घोषणा पत्र की 72 प्रतिशत घोषणाएं पूरी

मुख्यमंत्री ने कहा कि चुनावी घोषणा पत्र जिसे हमने सुराज संकल्प पत्र बनाया उसकी 72 प्रतिशत घोषणाएं ढाई साल में ही पूरी कर अपना रिपोर्ट कार्ड जनता के सामने रखा। बाकी 28 प्रतिशत घोषणाएं शीघ्र पूरा करने का प्रयास करेंगे।

भीलवाड़ा को दी 285 करोड़ रुपये की सौगात

मुख्यमंत्री ने इस कार्यक्रम में भीलवाड़ा जिले को करीब 285 करोड़ रुपये की विभिन्न विकास परियोजनाओं के शिलान्यास एवं लोकार्पण की भी सौगात दी। श्रीमती राजे ने कहा कि भीलवाड़ा के विकास के जो वादे हमने किये हैं उन्हें निश्चित रूप से पूरा करेंगे। विकास की दौड़ में पिछड़ गया भीलवाड़ा अब सभी क्षेत्रों में राजस्.थान के विकसित जिलों की श्रेणी में शुमार होगा। उन्होंने कहा कि साल डेढ़ साल के भीतर यह काॅलेज बन जाए, ऐसा प्रयास हो।

बिजली छीजत कम करने के लिए मिलाएं सरकार से हाथ

श्रीमती राजे ने बिजली की छीजत दूर करने के लिए लोगों से सहयोग करने की अपील करते हुए अजमेर जिले के बिठूर गांव के लोगों का उदाहरण दिया। उन्होंने कहा कि 9 मई को जब वे औचक निरीक्षण के लिए इस गांव में पहुंची तो गांव वालों ने बिजली सप्लाई बंद होने की शिकायत की। मुझे पता चला कि इस गांव में 46 प्रतिशत तक बिजली की छीजत होने के कारण सप्लाई बंद कर दी गई है। मैंने गांव वालों से कहा कि आपको बिजली तो मिल जायेगी लेकिन आप सबको मिलकर छीजत भी कम करनी होगी। गांव वालों ने इसमें सहयोग किया तो छीजत अब घटकर 23 प्रतिशत तक आ गई। अब उस गांव को बिजली मिल रही है।

खत्म होंगे रास्ते के विवाद

मुख्यमंत्री ने राजस्व विवादों को खत्म करने के लिए चलाए जा रहे न्याय आपके द्वार अभियान शिविर की सफलता का जिक्र करते हुए कहा कि दो सालों में प्रदेश में 52 लाख राजस्व विवादों का निस्तारण कर दिया गया है जो अपने आप में एक बहुत बड़ी उपलब्धि है। प्रदेश में इस अभियान से 254 ग्राम पंचायतें राजस्ववाद मुक्त हो चुकी हैं। उन्होंने कहा कि अब रास्ते के विवादों को 15 जुलाई के बाद एक महीने का अभियान चलाकर दूर किया जायेगा।

9 लाख लोगों को रोजगार

श्रीमती राजे ने कहा कि 15 लाख लोगों को रोजगार के वादे को हम हर हाल में पूरा करेंगे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने मात्र ढाई साल में 9 लाख 8 हजार 687 लोगों को रोजगार से जोड़ा है। जिनमें 95 हजार 687 लोगों को नियमित नियुक्तियां दी गई हैं।

साथ ही 8 लाख 13 हजार लोगों को निजी क्षेत्र में रोजगार मिला है। जबकि पूर्ववर्ती सरकार नियमित और निजी क्षेत्र में मात्र 2 लाख 43 हजार लोगों को ही इस अवधि में रोजगार दे पाई थी।

मिलकर भीलवाड़ा को चमकाएंगे

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें मिलकर भीलवाड़ा को चमकाना होगा। इसके लिए यहां के हर व्यक्ति को कमर कसनी होगी। इस काम में जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों और यहां के नागरिकों को आगे आना होगा और भीलवाड़ा को स्वच्छ भारत अभियान के तहत एक साफ-सुथरा शहर बनाना होगा।

पौधे लगाकर राजस्थान को हरा-भरा बनाएं

श्रीमती राजे ने कहा कि हम सभी को पौधे लगाकर राजस्थान को हरा-भरा बनाने का संकल्प लेना होगा। मुख्यमंत्री ने पौधा रोपण के लिए हाथ खड़े करवाकर जनसमूह से संकल्प भी दिलवाया और कहा कि हर व्यक्ति कम से कम 5 पौधे लगाए और उन्हें 2 साल तक संभालें।

भीलवाड़ा के लोग प्रेमी हैं

मुख्यमंत्री ने कहा कि भीलवाड़ा के लोग प्रेमी हैं, जो हमेशा उनके सिर पर हाथ रखकर उन्हें आशीर्वाद देते हैं। जब-जब भी वे भीलवाड़ा आईं, ईश्वर की कृपा रही कि यहां के लोगों ने उन पर प्रेम की बारिश की और संयोग भी ऐसा रहा कि उसी वक्त इन्द्र देव ने भीलवाडा पर कृपा बरसाकर वर्षा की।
इन परियोजनाओं का भूमि पूजन, शिलान्यास एवं लोकार्पण

क्र.भूमि पूजनअनुमानित लागत
1.मेडिकल काॅलेज, भीलवाड़ा190 करोड़ रुपये
शिलान्यास
1.राजकीय माध्यमिक विद्यालय, ओज्याड़ा1 करोड़ 6 लाख
2.राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, सांगरिया1 करोड़ 40 लाख
3.राजकीय माध्यमिक विद्यालय, दूड़िया80 लाख
4.रेल्वे ओवर ब्र्रिज, स्वरूपगंज40 करोड़
5.मुख्यमंत्री जन आवास योजना, हरणीखुर्द41 करोड़
6.धनलक्ष्मी समृद्धि भवन, रायपुर24 लाख
7.किसान सेवा केन्द्र सहित विलेज नाॅलेज सेन्टर एवं भू अभिलेख केन्द्र, रायपुर11 लाख
लोकार्पणसम्भावित व्यय
1.जिला परिवहन कार्यालय, शाहपुरा1 करोड़
2.कार्यालय आबकारी थाना, शाहपुरा1 करोड़
3.उप तहसील भवन, पण्डेर1 करोड़ 75 लाख
4.उप तहसील भवन, बडलियास 1 करोड़ 75 लाख
5.उप तहसील भवन, पारोली 1 करोड़ 75 लाख
6.अनुसूचित जाति छात्रावास, सहाड़ा1 करोड़
7.उप तहसील भवन, खजूरी 1 करोड़ 75 लाख
8.सूर्य नमस्कार के विभिन्न मुद्राओं के एलिवेटेड पेडेस्टल 25 लाख
9.ब्लाॅक सांख्यिकी एवं किसान सेवा केन्द्र, रायपुर20 लाख

भीलवाडा/जयपुर, 27 जून 2016

This slideshow requires JavaScript.